- नागपुर समाचार, मेट्रो

किसी को भी विकास कार्य रोकने की अनुमति नहीं देंगे- नितिन गडकरी

नागपुर:- केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पिछले दिनों मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर कहा था कि शिवसेना के नेता अधिकारियों और ठेकेदारों को परेशान कर रहे हैं.
गडकरी की चिट्ठी पर सीएम ठाकरे बोले- आप बहुत मीठी बात करते हैं लेकिन कठोर तरीके से लिखते हैं
नितिन गडकरी और उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आज केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी की तरफ से लिखी गई चिट्ठी की तरफ इशारा करते हुए कहा कि वह किसी को भी विकास कार्य रोकने की अनुमति नहीं देंगे.

गडकरी ने कुछ दिन पहले महाराष्ट्र में राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं में शिवसेना के स्थानीय नेताओं द्वारा कथित रूप से बाधा डालने के बारे में मुख्यमंत्री ठाकरे को पत्र लिखा था. ठाकरे ने केंद्रीय मंत्रियों गडकरी और हरदीप सिंह पुरी के साथ नागपुर मेट्रो के सीताबुलडी-जीरो माइल फ्रीडम पार्क-कस्तूरचंद पार्क खंड में परिचालन का उद्घाटन किया. जहां गडकरी मौके पर मौजूद थे, वहीं ठाकरे और पुरी ने डिजिटल रूप से समारोह में हिस्सा लिया.

गडकरी द्वारा मुख्यमंत्री को लिखे गए एक पत्र में दावा किया गया था कि ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना के नेता गैरकानूनी मांगों के साथ अधिकारियों और ठेकेदारों को परेशान कर रहे हैं और राज्य में कुछ राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं को रोक दिया था.

गडकरी के संदेश के एक स्पष्ट संदर्भ में, ठाकरे ने कहा, आप बहुत मीठी बात करते हैं लेकिन कठोर तरीके से लिखते हैं. हमारे संबंध अलग हैं. आप काम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और हम भी हैं.

उन्होंने कहा, आप भी शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे की शिक्षाओं को जानते हैं…वह जनकल्याण के कार्यों में किसी को भी कभी बाधा पैदा नहीं करने देते थे. मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूं कि मैं किसी को भी जनकल्याणकारी कार्यों में आड़े नहीं आने दूंगा.

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार केंद्र के साथ मिलकर नागपुर को देश के सर्वश्रेष्ठ शहरों में से एक बनाने के लिए काम कर रही है. इस मौके पर गडकरी ने ठाकरे और राज्य के शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे को उनके लोकसभा क्षेत्र नागपुर में विकास परियोजनाओं के लिए उनके समर्थन के लिए धन्यवाद दिया. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता ने कहा कि उनका मंत्रालय महाराष्ट्र में बड़ी परियोजनाओं के लिए अतिरिक्त एक लाख करोड़ रुपये आवंटित करने को तैयार है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.