- Breaking News, नागपुर समाचार

16 निजी कोव्हिड अस्पतालों को मंजूरी, 1876 बेड की उपलब्धता

नागपुर : सरकारी अस्पतालों के साथ ही अब कोरोना के मरीजों पर उपचार के लिए निजी अस्पतालों को मंजूरी प्रदान की गई है, जिसके अनुसार 16 अस्पताल अब पूरी तरह कोविड अस्पताल बनने से कुल 1,876 बेड उपलब्ध कराए गए हैं. इस संदर्भ में मनपा आयुक्त मुंढे की ओर से आदेश जारी किए गए. आदेश के अनुसार सभी अस्पतालों को कोविड अस्पताल के रूप में मंजूरी प्रदान की गई. कुल 1,876 बेड्स में से 256 बेड आईसीयू कक्ष के होंगे जबकि 997 बेड्स के लिए आक्सीजन की व्यवस्था होगी. इसके अलावा 623 बेड सामान्य होंगे. सभी अस्पतालों को मिलाकर 90 वेंटिलेटर्स की व्यवस्था होगी.

34 कोरोना टेस्ट सेंटर्स… 

बताया जाता है कि कोरोना पॉजिटिव के सम्पर्क में आनेवाले एवं कोरोना के लक्षणवाले व्यक्तियों को तुरंत जांच की सुविधा उपलब्ध कराने की दृष्टि से मनपा ने जोन स्तर पर 34 कोरोना टेस्ट सेंटर्स की व्यवस्था की है, जिसमें से 6 कोरोना टेस्ट सेंटर्स पर आरटी-पीसीआर टेस्ट की भी व्यवस्था की गई है. आरटीपीएस पुलिस प्रशिक्षण केंद्र, लॉ कॉलेज छात्रावास, रवि भवन, मारिस कॉलेज छात्रावास, पांचपावली पुलिस कर्चॉर्टर्स और राजनगर में आरटी-पीसीआर टेस्ट की व्यवस्था कराई गई है, जहां सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक जांच होगी. अन्य 28 सेंटर्स मनपा के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर है. जहां एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था कराई गई है.

केंद्रीय कॉल सेंटर की सुविधा… 

कोरोना के इलाज को लेकर बाधितों में सम्भ्रम की स्थिति रहती है, जिससे मनपा द्वारा केंद्रीय पद्धति से कोविड काल सेंटर को क्रियान्वित किया गया है. जहां 0712-2567021 नंबर पर कोरोना पॉजिटिव अस्पतालों की जानकारी ले सकेंगे. जहां से मरीजों को होम आयसोलेशन या अस्पताल में उपचार के संदर्भ में मार्गदर्शन किया जाएगा. कॉल सेंटर्स के माध्यम से लोगों को निजी अस्पतालों और सरकारी अस्पतालों में कितने बेड रिक्त हैं, कहां पर  भर्ती कराया जा सकता है. इसकी जानकारी भी उपलब्ध होगी. बुधवार को मनपा आयुक्त मुढे ने कॉल सेंटर की समीक्षा की. साथ ही उचित दिशा निर्देश अधिकारियों को दिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.