- Breaking News

नागपुर समाचार : अखबार उद्योग व पत्रकारिता आधुनिक युग में सबसे बड़ी चुनौती : विलासराव मुत्तेमवार

महाराष्ट्र राज्य पत्रकार संघ मुंबई के विदर्भ स्तरीय द्वितीय अधिवेशन संपन्न

नागपुर समाचार : महाराष्ट्र राज्य पत्रकार संघ, मुंबई के तत्वावधान में विदर्भ स्तरीय द्वितीय अधिवेशन – 2022 का आयोजन दो सत्रों में नागपुर वीआईपी रोड धरमपेठ स्थित वनामति सभागृह में रविवार 24 अप्रैल को संपन्न हुआ। प्रथम सत्र के दौरान भारत सरकार के पूर्व अपारंपरिक ऊर्जा स्त्रोत मंत्री एवं पूर्व सांसद विलासराव मुत्तेमवार के करकमलों द्वारा दीप प्रज्वलन कर उद्घाटन किया गया। साथ ही स्मरण पत्रिका – 2022 का विमोचन तथा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर महाराष्ट्र राज्य पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष वसंत मूंढे, सरचिटनीस विश्वासराव आरोटे, उमरेड़ के विधायक राजू पारवे, दैनिक महासागर अखबार के संपादक श्रीकृष्ण चांडक सहित गणमान्य उपस्थित थे। 

बतौर विशेष अतिथि भारत सरकार के पूर्व केन्द्रीय मंत्री विलासराव मुत्तेमवार ने भारत के अखबार उद्योग, पत्रकारिता पेशे भूतकाल, वर्तमान काल और भविष्य काल पर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि भूतकाल में अखबार को चलाने के लिए बहुत मेहनत, पूंजी का निवेश करने के बाद भी उद्योग चलाना चुनौती थी। 

उस समय अखबार के मालिक को अखबार के कागज, स्याही, मशीनों के बढ़ते दाम से अखबार उद्योग चलाना मुश्किल हुआ करता था। आज भी अखबार उद्योग चलाना मुश्किल होता जा रहा है। छोटे छोटे गावों में दो, चार, छह, बारह पृष्ठ के अखबार चलाना कठिन कार्य है। फिर भी अखबार उद्योग में पत्रकार, संपादक कागज की हो रही मूल्य वृद्धि, महंगाई बढ़ने के बाद भी अखबार दो, पांच रुपए में घर तक उपलब्ध कराकर दे रहे हैं।

विलासराव मुत्तेमवार ने स्वयं के एक दैनिक अखबार का प्रारंभ भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के हाथों उद्घाटन करके शुरू किया था। जिसे उन्होंने प्रतिस्पर्धा के चलते ग्यारह वर्षों तक चलाया। इस दौरान उन्होंने पत्रकार, अखबार उद्योग के दौरान आ रही चुनौती का उल्लेख किया। विशेष रूप से आज के टेलीविजन चैनल, इलेक्ट्रॉनिक युग में त्वरित खबरों की मांग के चलते अखबार का चलन कम होने पर भी चिंता जाहिर की।

दैनिक महासागर के संपादक श्रीकृष्ण चांडक ने कागज, प्रिंटिंग सामग्री के मूल्य वृद्धि के बाद भी स्वस्त दर से उपलब्ध कराने को गंभीर चुनौती बताया। श्री चांडक ने कहा कि आज रोजाना उपयोग में आ रही वस्तुओं के दाम हजारों गुणा बढ़ चुके है। वहीं अब भी अखबार दो, तीन, पांच रुपए में पाठकों को सुलभ करवाया जा रहा है।

अध्यक्षीय संबोधन में महाराष्ट्र राज्य पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष वसंत मुंडे ने दो वर्ष तक महामारी से अनेक पत्रकारों की बेसमय मृत्यु पर चिंता जाहिर की। मुंडे ने कहा कि कोरोना के दौरान हजारों पत्रकारों ने दिन रात मेहनत कर देशवासियों को ख़बरें सुलभ करवाते हुए अपने प्राण गवां दिए। अनेक पत्रकारों को नौकरी से हाथ धोने के बाद भी सरकार की तरफ से फ्रंट लाइन वारियर की सुविधा नहीं मिली। उन्होंने विदर्भ स्तरीय द्वितीय अधिवेशन में गढ़चिरौली, चंद्रपुर, मुंबई सहित महाराष्ट्र से आए सभी पत्रकार को धन्यवाद दिया। 

उमरेड़ जिला के विधायक राजू पारवे ने कोरोना महामारी के दौरान दिन रात खबरें पहुंचाने वाले पत्रकार बंधुओं के किए कार्य की सराहना की। विधायक राजू पारवे ने देशभर के हजारों पत्रकारों को कोरोना की बीमारी से मौत होने पर और लाखों पत्रकारों को नौकरी खोने पर सरकार की तरफ से कोई सुविधा नहीं मिलने पर चिंता जाहिर की।

अतिथियों द्वारा विशेष सम्मान पाने वालों में – संतोषसिंह रावत को ‘महाराष्ट्र गौरव सन्मान’, संतुक्त गाव गणराज्य परिषद, गडचिरोली को ‘गोंडवाना गौरव सन्मान’, निलेश सोमानी, वासिम को ‘महाराष्ट्र भुषण सन्मान’, श्रीकृष्ण चांडक, नागपुर को ‘महाराष्ट्र गौरव सन्मान’, दीपक लालवानी, नागपुर को ‘महाराष्ट्र गौरव सन्मान’ प्रितपालसिंह भाटिया, नागपुर को ‘महाराष्ट्र गौरव सन्मान’, प्रा. महेश पानसे, मूल चंद्रपुर को ‘महाराष्ट्र गौरव सन्मान’, डॉ. आनंद शर्मा, नागपुर को ‘महाराष्ट्र गौरव सन्मान’, फायक अली अहमद अली सैय्यद, जामखेड, अहमदनगर को ‘कार्य गौरव सन्मान’, अड. सौ. शमिंला रामटेके, नवेगाव पांडव, चंद़पूर को ‘विदर्भ भुषण सन्मान’ से सम्मानित किया गया।

द्वितीय सत्र में समाचार पत्रों के अर्थ कारण विषय पर प्रदेशाध्यक्ष वसंत मुंडे, दैनिक महासागर के संपादक श्रीकृष्ण चांडक, दैनिक महाराष्ट्र टाइम्स के संपादक श्रीपाद अपराजित, दैनिक लोकशाही वार्ता के संपादक भास्कर लोंढे, दैनिक राष्ट्र प्रकाश के संपादक सुदर्शन चक्रधर और राकांपा के राष्ट्रीय नेता शब्बीर अहमद विद्रोही ने पत्रकारों का मार्गदर्शन किया।

आयोजन की सफलतार्थ महाराष्ट्र राज्य पत्रकार संघ के पूर्व विदर्भ अध्यक्ष प्रा. महेश पानसे, महासचिव शरद नागदेवे, विदर्भ संगठक आनंद शर्मा, नागपुर जिलाध्यक्ष प्रदीप शेंडे, विदर्भ उपाध्यक्ष अनूप कुमार भार्गव, चंद्रपुर जिलाध्यक्ष सुनिल बोकड़े के अलावा विदर्भ अध्यक्ष बालासाहेब देशमुख, फरहीन शाहा, रोहिला बेग, सुरेंद्र कश्यप, मो इलियाज, डॉ सुधीर कमलाकर सहित अन्य का योगदान रहा। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महाराष्ट्र के विविध हिस्सों से आए प्रतिनिधि मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन मोहम्मद सलीम ने किया तथा नीलेश सोमानी ने अतिथियों के  प्रति आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.