- नागपुर समाचार

फेडरेशन ऑफ ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया का राष्ट्रीय पुरस्कार टीम नागपुर ऑब्सटेट्रिक एंड गायनेकोलॉजिकल सोसायटी 2019-20 को प्रदान।

नागपुर:- फेडरेशन ऑफ ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया का राष्ट्रीय पुरस्कार टीम नागपुर ऑब्सटेट्रिक एंड गायनेकोलॉजिकल सोसायटी 2019-20 को प्रदान (NOGS 2019-20) FOGSI AICOG 2022 में नागपुर चमका शानदार उद्घाटन समारोह में टीम और शानदार एआईसीओजी 2022 का आयोजन
5 अप्रैल 2022 को कन्वेंशन सेंटर इंदौर स॑पन्न हूआ
एनओजीएस को प्रतिष्ठित राष्ट्रीय पुरस्कार मिलने से एनओजीएस ने नागपुर शहर का नाम रौशन किया।
10 साल बाद नागपुर ऑब्सटेट्रिक एंड गायनेकोलॉजिकल सोसायटी 2019-20 अध्यक्ष डॉ प्रियंका कांबले और टीम ने एफओजीएसआई डॉ डी के टैंक ट्रॉफी प्राप्त की.


डॉ. प्रियंका कांबले, की अध्यक्षता में नागपुर प्रसूति एवं स्त्री रोग सोसायटी 2019-20, सचिव डॉ क्षमा केदार और टीम को सबसे प्रतिष्ठित सर्वश्रेष्ठ प्रजनन स्वास्थ्य देखभाल संवर्धन के लिए पूरे भारत में मेट्रो और बड़े शहरों के साथ प्रतिस्पर्धा करते हुए वर्ष 2019-20 में काम कर ने से फेडरेशन ऑफ ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया का सबसे बड़ा राष्ट्रीय पुरस्कार FOGSI-डॉ डी के टैंक ट्रॉफी 2019के लिये चुनা गयা
महাस॑घ एफओजीएसआई अध्यक्ष डॉ शांता कुमारी, के हाथों
राष्ट्रीय पुरस्कार – एफओजीएसआई डॉ डी के टैंक ट्रॉफी डॉ प्रियंका कांबले को प्रदान की गई। तत्काल पूर्व अध्यक्ष डॉ अल्पेश गांधी, महासचिव डॉ. जयदीप टैंक और डॉ माधुरी पटेल डॉ जीन ऐनी की शानदार उपस्थिति के साथ अंतर्राष्ट्रीय प्रसुतिशास्त्र और स्त्रीरोग महासंघ (FIGO) की अध्यक्षा डॉ कॉनरी, प्रसूति एवं स्त्री रोग के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष उपस्थिति में प्रदान किया गया.
एनओजीएस टीम 2019-20 की अध्यक्षता अध्यक्ष डॉ प्रियंका कांबले, सचिव डॉ क्षमा केदार ने की
और कोषाध्यक्ष डॉ राजसी सेनगुप्ता ने एनओजीएस मिशन थीम के साथ काम करना शुरू किया
सावधानी, देखभाल और इलाज के साथ महिलाओं के स्वास्थ्य की देखभाल करने के जुनून के साथ
महिलाएं सुरक्षित, मजबूत और होशियार बन पाए। रिप्रोडक्टिव हेल्थ पर पूरे वर्ष में सबसे अधिक समर्पित मिशन था। सुरक्षित मातृत्व के लिए सम्मेलनों और 143 प्रजनन स्वास्थ्य गतिविधियों को लिया गया,
स्वस्थ माँ और स्वस्थ बच्चा, प्रसूति रक्तस्राव से निपटना, उच्च प्रबंधन जोखिम गर्भधारण, डॉक्टरों के सर्जिकल कौशल को बढ़ाना और में अन्य कमी पर ध्यान केंद्रित करना
मातृ मृत्यु दर एमएमआर कम करना यह उद्देश्य था।
विभिन्न स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम, स्वास्थ्य शिविर, स्वास्थ्य वार्ता, एनीमिया चले जाओ, नारी को पीपीएच से बचाओ का लक्ष्य था। कार्य में उत्कृष्टता निम्नलिखित के तहत एनओजीएस के लिए सफलता सच हो गई है।
डॉ. प्रियंका कांबले के अध्यक्ष कार्यकाल के सभी पदाधिकारियों, कार्यपालकों के साथ
और सभी सदस्यों के साथ-साथ पूर्व अध्यक्ष सलाहकारों के मार्गदर्शन का साथ . इस सफलता के लिए शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय (जीएमसी,) इंदिरा गांधी शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय (आईजीजीएमसीएच), लता मंगेशकर हास्पिटल (एलएमएच,) सेंट्रल रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.