- नागपुर समाचार, राज्य, राष्ट्रीय

खासदार औद्योगिक महोत्सव को दूसरे दिन भी मिला भारी प्रतिसाद। इम्पोर्ट-एक्सपोर्ट, ज्वेलरी के व्यवसाय के विषय मे दी गई महत्वपूर्ण जानकारी।

NBP NEWS 24,

NAGPUR.

13-03-2022

विदर्भ के उद्योगाें का दुर्गम क्षेत्रों में विकेंद्रीकरण जरूरी-

नागपुर। विदर्भ के उद्योगाें का विकेंद्रीकरण आवश्यक है। भंडारा-गोंदिया गड़चिरोली जैसे दुर्गम क्षेत्रों में भी कृषि व ग्रामीण आधारित व्यवसाय, उद्योगों का निर्माण होना चाहिए। यह विचार केंद्रीय परिवहन मंत्री नितीन गडकरी ने हिंगना एमआईडीसी परिसर में 12 से 14 मार्च तक आयोजित “खासदार औद्योगिक महोत्सव’ के उद्घाटन अवसर पर व्यक्त किए। केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय अंतर्गत नागपुर के एमएसएमई विकास संस्था तथा विदर्भ के उद्योजकों और उद्योग संगठनों के सहयाेग से इस महोत्व का आयोजन किया गया है। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद डॉ. विकास महात्मे, औद्योगिक विकास महामंडल -एमआईडीसी के सीईओ डॉ. अनबलगन, एमएसएमई विकास संस्था के संचालक पी.एम. पार्लेवार प्रमुखता उपस्थित थे।

Advertisement

खासदार औद्योगिक महोत्सव के दूसरे दिन नाशिक के सांसद श्री हेमन्त गाडगे ने कहा कि खासदार औद्योगिक महोत्सव जैसे आयोजन महाराष्ट्र के अन्य शहरों में भी होने चाहिए उन्होंने इस आयोजन के लिए केंद्रीय मंत्री श्री नितिनजी गडकरी, पी.एम. पार्लेवार एवं सभी टीम को शुभकामनाएं दी। धुले के सांसद श्री सुभाष भामरे जी ने इस महोत्सव की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस आयोजन से नवयुवको और लघुद्योग करने वालो को बहुत सहायता मिलेगी और उन्हें दिए जा रहे टेक्निकल ज्ञान से उनकी प्रोडूक्टिविटी में इजाफा होगा। खासदार औद्योगिक महोत्सव के दूसरे दिन हेमन्त गाडगे (संसद, नाशिक), सुभाष भामरे (संसद, धुळे), मिथिलेश पांडे, नकुल बागकर, पी. एम. पार्लेवार एवं अन्य मौजूद थे।

जहां काम शुरू नहीं किया, वह भूमि निवेश के इच्छुकों को दें : गडकरी ने कहा कि, राज्य में जिन उद्योगों ने ली गई जगह पर काम शुरू नहीं किया है ऐसी भूमि निवेश के इच्छुक लोगों को देनी चाहिए। ऐसी जगह के खरीदी-बिक्री को लेकर एमआईडी को विशेष नीति बनाने के निर्देश दिए। उन्हाेंने कहा कि, विदर्भ में तैयार कपड़े-गारमेंट के क्लस्टर बनाने, संतरा, कपास से सबंधित उद्योगों के लिए तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान करना चाहिए। विदर्भ के डिफेंस उद्योग यदि वाहन उद्योग के लिए सीएनजी सिलेंडर और सेमीकंडक्टर बनाने लगे तो देश में इनकी किल्लत दूर हो जाएगी।

क्रीड़ा की तरह इस महोत्सव को भी प्रतिसाद मिलेगा-श्री नितिनजी गडकरी

गडकरी ने कहा कि, मैंगनीज ओर इंडिया लिमिटेड (मॉइल) को मैंगनीज का उत्पादन बढ़ाने की जरूरत है। जिस प्रकार खासदार क्रीड़ा महोत्सव, खासदार सांस्कृतिक महोत्सव को प्रतिसाद मिलता है वैसा ही प्रतिसाद खासदार औद्योगिक महोत्सव को भी मिलेगा। 2023 में सभी उद्योग संगठनों को एक मंच पर लाकर भव्य रूप में औद्योगिक महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। इस अवसर पर गडकरी ने “सर्विसवाला’ एप तथा “उद्योजक विश्व’ पत्रिका का लोकार्पण किया।

महोत्सव में 75 स्टॉल्स लगाए गए हैं : पी.एम. पार्लेवार ने बताया कि, 3 दिवसीय महोत्सव में 75 स्टॉल्स लगाए गए हैैं। एमआईडीसी के सीईओ डॉ .अनबलगन ने राज्य सरकार की ओर से उद्योग संवर्धन के लिए उपलब्ध योजनाओं की जानकारी दी। प्रदर्शनी का समय सुबह 11 से शाम 6 बजे तक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.