- सामाजिक 

मी एंड माय फेयर चर्चासत्र में सकारात्मक विचारों का दिया संदेश

नागपुर। आर्य विद्या सभा द्वारा संचालित दयानंद आर्य कन्या विद्यालय एवं कनिष्ठ महाविद्यालय की ओर से कोविड – 19 की इस असमंजस वाली स्थिति से जूझने के लिए और उसका सामना करके बाहर निकल आने के लिए सकारात्मक विचारों को लेकर समय – समय पर प्राचार्या तेजिंदर वेणुगोपाल के मार्गदर्शन में ऑनलाइन सेमिनार का आयोजन किया जा रहा है.
इस दौरान ‘मी एंड माय फेयर’ भाग – 2 (जीतेंगे हम डॉक्टर आरती धारस्कर के संग) सेशन के अंतर्गत डाॅ. आरती धारस्कर (एम बी बी एस. एमडी) के साथ कोरोना महामारी के डर को भगाकर कैसे जीता जा सकता है ? इस पर चर्चा सत्र रखा गया. जिसमें उनके साथ जफर अहमद खान (प्रेसिडेंट स्कूल हेड मास्टर चैरिटेबल एसोसिएशन), संदीप पंचभाई (वाइस प्रेसिडेंट विद्या भारती नागपुर महानगर) सहभागी हुए.

कार्यक्रम का प्रारंभ और संचालन संगीता सगदेव ने अतिथि परिचय देकर और कार्यक्रम की भूमिका रखते हुए किया. डॉ आरती ने कोरोना महामारी के संबंध में चल रहे असमंजस की स्थिति को अपने सकारात्मक विचारों और योजनाबद्ध तरीके से पूर्ण सावधानियां बरतकर स्वयं को कैसे बचाया जा सकता है , उसके तरीके बताए। बीमारी के लक्षणों को पहचानना और उसे फैलने ना देना, मास्क लगाने का सही तरीका, सैनिटाइजर का उपयोग करने का सही तरीका, साथ ही साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना और वैक्सीनेशन के फायदे अत्यंत सरल तरीके से समझा कर सभी के मन की उलझन दूर कर दी।

उन्होंने कहा कि कोरोना के बचाव मे केवल डाॅक्टर, सरकार, पुलिसकर्मी ही नहीं संपूर्ण जनता को आत्मविश्वास बनाए रखकर महामारी को भगाने में सहयोग करना चाहिए. नियमों का पालन सख्ती से करें, निडर होकर स्थिति से स्वयं को बचाने का प्रयास करें , तुरंत अस्पताल में ना भागकर सूझबूझ से काम लें. प्राचार्या वेणुगोपाल ने समस्त नागरिकों से एक कविता के माध्यम से अपील की कि ‘गुजर रही है जिंदगी एक ऐसे मुकाम से कि अपने भी दूर हो जाते हैं जरा से जुकाम से’. ‘तमाम कायनात में एक कातिल बीमारी हवा हो गई वक्त ने कैसा सितम ढाया की दूरियां ही दवा हो गई’.

जफर अहमद खान, सीनियर अध्यापिका नेहा तोतलानी तथा संदीप पंचभाई ने डॉ. आरती से विद्यार्थियों की सुरक्षा संबंधी प्रश्न पूछ कर अपना शंका समाधान किया. जफर अहमद खान ने सुंदर गीत प्रस्तुत करके सबका मन मोह लिया. कार्यक्रम में विद्यालय की विशेषताओं और प्रवेश प्रक्रिया की जानकारी पर्यवेक्षिका भावना बेलानी द्वारा दी गयी. मिडिल स्कूल अध्यापिका महक आडवानी ने प्रत्यक्ष रूप से सहभाग लिया. आभार प्रदर्शन उपप्राचार्या भारती कालरा ने किया. संस्था के अध्यक्ष अशोक कृपलानी, राजेश लालवानी तथा इंचार्ज वेद प्रकाश आर्य के साथ – साथ अन्य पदाधिकारी गणों ने कार्यक्रम की सराहना की.

Leave a Reply

Your email address will not be published.