- नागपुर समाचार

मेडिकल और मेयो के 450 इंटर्न डॉक्टर हड़ताल पर।

नागपुर समाचार : नागपुर में बड़ी कोरोना महामारी के बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है नागपुर के सरकारी गवर्नमेंट मेडिकल हॉस्पिटल और इंदिरा गांधी वैद्यकीय अस्पताल के 450 इंटर्न डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं। यह डॉक्टरों ने आज सुबह से ही काम करना बंद कर दिया है और अस्पताल के बाहर खड़े होकर प्रदर्शन कर रहे हैं। ऐसे में अस्पताल की व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। नागपुर मेडिकल सरकारी अस्पताल के 300 इंटर्न डॉक्टर और नागपुर इंदिरा गांधी रुग्णालय के 150 इंटर्न डॉक्टरों ने अस्पताल के बाहर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है और अगले 5 दिनों तक यह इंटर्न डॉक्टर इसी तरह से हड़ताल पर रहेंगे अगर 5 दिन तक भी इन डॉक्टरों की मांगे नहीं मानी गई तो यह डॉक्टर अपने हड़ताल को और आगे बढ़ा देंगे इनके साथ महाराष्ट्र में कई और सरकारी अस्पतालों में इंटर्न कर रहे तकरीबन 3000 इंटर्न डॉक्टर भी इनकी हड़ताल में शामिल हो गए है।

इन डॉक्टरों की 3 प्रमुख मांगे है। जिस तरह से मुम्बई में इंटर्न डॉक्टर को रुपये 50,000 प्रति महीना मानधन दे रही है यह इंटर्न डॉक्टर भी अपने लिए इसी तरह से रुपये 50,000 प्रति महीना मानधन मांग रहे हैं फिलहाल इन्हें रुपये 11000 मानधन के तौर पर दिया जा रहा है इसके साथ ही कोवेट वार्ड में ड्यूटी करने के बाद इन्हें क्वॉरेंटाइन होने के लिए व्यवस्था और बीमार होने पर सरकार इनका खर्च उठाएं। इसके साथ ही तीसरी और आख़री मांग है कि इन्हें बीमा कवच दिया जाए ताकि इन्हें कुछ हो जाने पर इनके परिजनों की सहायता हो सकें।

हालांकि अपनी इन मांगो के बीच इन इंटर्न डॉक्टरों ने काम करना बंद कर दिया है। जिसके बाद अस्पताल बुरी तरह से प्रभावित हो गया है। इन सरकारी अस्पताल में कोरोना के तकरीबन 2000 बेड है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.