- Breaking News, नागपुर समाचार

नागपुर में हुआ गुलाबी गैंग का आगमन।

नागपुर’ 23 feb – मंगलवार 23 फरवरी को दोपहर 4 बजे टेका नाका कामठी रोड स्थित JP लॉन में “गुलाबी गैंग” का महाराष्ट्र पदार्पण का कार्यक्रम आयोजित किया गया। “गुलाबी गैंग” किसी पहचान की मोहताज नही है। आज भारत देश मे ही नही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह संघटना काम कर रही है। महिलाओं पर हो रहे अत्त्याचार, भ्रष्टाचार, महिला सशक्तिकरण, महिला सुरक्षा जैसे कई मुद्दों पर इस संघटना द्वारा कार्य किया जाता है। अब विदर्भ महाराष्ट्र में भी गुलाबी गैंग कदम रख चुकी है। महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश की कमांडर श्रीमती पूर्णिमा वर्मा ने NBP NEWS 24 को बताया कि हमारी संघटना अब महिलाओं के साथ साथ उन पुरुषों की भी मदत करेगी।
महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश की कमांडर श्रीमती पूर्णिमा वर्मा ने प्रीति दास सैनी को विदर्भ कमांडर का पद सौपा है। नागपुर से अब प्रीति दास सम्पूर्ण महाराष्ट्र की महिलाओं के लिए न्याय दिलाने का कार्य करेंगी। नागपुर में आत्मरक्षा हेतु महिलाओं और लड़कियों को प्रशिक्षित किया जायगा ऐसा पूर्णिमा वर्मा ने पत्रकारों को बताया।
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रूप में श्रीमती पूर्णिमा वर्मा में उपस्थित थी। नीलिमा जैस्वाल, छायाताई उरकुड़े, पूनम देशमुख, क्रिश्टिना पॉल, इशिका इल्मे, आशा दास, एड. राजेश शिवनकर, जावेद पठान, मजनू भाई, अनवर भाई, गुड्डू भाई, मोनू भाई, लवकेश पटेल, सय्यद जाफरी, चंदू बोखारेजी आदि कार्यक्रम में मौजूद थे।
महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश की कमांडर श्रीमती पूर्णिमा वर्मा ने बताया कि “गुलाबी गैंग” संस्थापक संपत पाल दुनिया की सौ प्रेरक प्रभावशाली महिलाओं में शामिल हो चुकी है।
साल 2011 में अंतरराष्ट्रीय अखबार द गार्जियन ने संपत पाल को दुनिया की सौ प्रभावशाली प्रेरक महिलाओं की सूची में शामिल किया। इसके बाद कई देसी-विदेशी संस्थाओं ने संपत पाल पर डॉक्यूमेंट्री फिल्में भी बनाई। फ्रांस की एक मैग्जीन ओह ने साल 2008 में संपत पाल के जीवन पर आधारित एक पुस्तक का प्रकाशन किया, जिसका नाम था ‘मॉय संपत पाल, चेफ द गैंग इन सारी रोज जिसका मतलब है मैं संपत पाल- गुलाबी साड़ी में गैंग की मुखिया। संपत पाल जी के मार्गदर्शन में महारष्ट्र में भी अब गुलाबी गैंग महिलाओं के लिए कार्य करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.