- Breaking News, नागपुर समाचार

नागपुर : पानी के लिए अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू

नागपुर : महानगरपालिका सिविल लाइन्स में पानी समस्या के लिए अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे है। वेदप्रकाश आर्य ने बताया कि महापौर दयाशंकर तिवारी और मनपा आयुक्त को भी निवेदन दिया था कि नागपुर में 2017 तक नागपुर की जनता को 24 घंटे पानी देने का आश्वासन देवेंद्र फडणवीस ने दिया था। 

जब ओसीडब्लु निजी कंपनी को पानी ठेका दिया था उस समय भाजपा के पदाधिकारी कहते थे की नागपुर में मनपा के अधिकारी कर्मचारी काम नही करते है इसलिए उन्होंने बहुमत के आधार पर पानी का निजीकरण किया। 

आज परिस्तिथि ऐसी है नागपुर में 24 घंटे तो दूर नागपुर में निजीकरण के बाद अधिकांश इलाकों में मुश्किल से एक आध घंटा पानी मुश्कि से मिलता है। नागपुर के कई इलाकों में लोगों को टैंकर के ऊपर निर्भर रहना पड़ता है। मनपा जब पानी वितरण देखरेख का काम देखती थी तो उस समय मनपा 2010 – 2011 में 3 करोड़ से फायदे में थी निजीकरण के बाद 562 करोड़ से नुकसान में है। वेदप्रकाश आर्य ने कहा कि जब पानी की निजि कम्पनी ओसीडब्लु पानी वितरण देख रेख में असफल है मनपा का आर्थिक नुकसान हो रहा है लोगों को एक आध घंटा पानी भी नहीं मिलता है तो नागपुर महानगरपालिका में सत्तापक्ष क्यों निजी कंपनी को मदत कर रही है यह समझ के परे है। 

वेदप्रकाश आर्य ने कहा कि मनपा ने स्वयं पानी देखरेख वितरण का काम करना चाहिए, निजि कपनी ओसीडब्लु का ठेका रद्द किया जाय, एनइसएल की जांच की जाय, प्रत्येक वर्ष पानी की 5 प्रतिशत दर वृद्धि बंद की जाय। अन्यथा यह भूख हड़ताल शुरू रहेगी। 

इस आंदोलन में सर्वश्री अनिल अहिरकर, दुनेश्वर पेठे, दिलीप पनकुले, दिलीप जैस्वाल, जावेद हबीब, जानबा मसके, लक्ष्मी सावरकर, अशोक काटले, रेखा कुपाले, किरण यादव, विशाल खांडेकर, सुनीता शेंडे, सचिन मोहोड़, भैयालाल ठाकुर, संजय शेवाले, जसविन्दरसिंह सैनी, अजय मेश्राम, प्रशांत पवार,अविनाश गोतमारे,बाबाराव गावंडे, वसीम पटेल, महेंद्र भांगे, वर्षा मेश्राम, नागेश वानखेड़े,पांडुरंग हिवराले, नंदकिशोर माटे, महात्मा फुले समता परिषद अध्यक्ष मरोतकर,योगेश ठाकरे,राजू हाड़के, रवीन्द्र गिदोले का समर्थन, प्रमिला भगत, दयाल चांदवानी,चेतन मसके, हरीश टेवानी, तरुण रामदासानी, जीतू केवलरामानी, शेवक चेतनानी, रवीन्द्र इटकेलवार, गजानन घाघरे, अर्चना राऊत, सुरेश कावले, प्रमोद रामेकर, विनोदसिंग ठाकुर, प्रशांत खोबरागड़े, उपराव सनेश्वर, सागर गनवीर, राजेश डोंगरावर आदि बड़ी संख्या में लोगों का जनसमर्थन मिल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.