- Breaking News, क्राईम खबर , नागपुर समाचार

नागपुर : रनाला में आर्मी अधिकारी के घर डकैती, पति-पत्नी को बंधक बनाया

पिस्तौल, नगदी और सोने के जेवर सहीत माल लूटकर फरार हुए डकैत

नागपुर : नया कामठी थानांतर्गत बीती रात करीब 2.30 बजे रनाला के सिद्धि-रिद्धि कॉलोनी में 4 से 5 डकैत एक आर्मी अधिकारी के घर धावा बोलकर पति-पत्नी को बंधक बनाकर सोने के जेवर, नगदी 10 हजार रुपए और पिस्तौल लूटकर ले गए. इस घटना से परिसर में सनसनी फैल गई. घटनास्थल पर सुबह कई आला अधिकारी पहुंचे. 

पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार नया कामठी थाना परिसर में रनाला गांव से सटी सिद्धि-रिद्धि कॉलोनी में डुप्लेक्स बने हुए हैं. 25 से 30 परिवारों की इस कॉलोनी में आर्मी से सेवानिवृत्त अधिकारी सुनील डेविड और पत्नी रोशनी डेविड और दो बच्चे रहते हैं. बीती रात पूरा परिवार अपने घर में गहरी नींद में था. उसी समय 4 से 5 नकाबपोश डकैत उनके घर में घुस गए तो उनकी आवाज से सुनील डेविड जाग गए. डकैतों ने पहले सुनील और उसके बाद उनकी पत्नी रोशनी को औजार की नोंक पर बंधक बना लिया. उनके हाथ-पैर रस्सी से बांध दिए और उन्हें चेतावनी दी कि किसी को फोन किया या चिल्लाने की कोशिश की तो अंजाम बुरा होगा.

डकैतों ने सुनील से कैश मांगी. डकैत उनके पास से 10 हजार रुपए कैश, सोने की अंगूठियां और अन्य सामग्री सहित एक पिस्तौल लूट कर फरार हो गए. डकैतों ने लगभग 1 से डेढ़ घंटे तक घर में सुनील और उसकी पत्नी को बंधक बनाकर रखा था. यह दोनों ऊपर की मंजिल पर सोए थे. वहीं दोनों बच्चे नीचे सो रहे थे. संभवत: डकैत छत के रास्ते से आए होंगे.यह अनुमान लगाया जा रहा है. 

1 कि.मी पर कोई भी बस्ती नहीं

रनाला परिसर में बनी इस कॉलोनी के आस-पास 1 कि.मी तक कोई भी बस्ती नहीं है. आस-पास में जंगल जैसा क्षेत्र है. 25 से 30 डुप्लेक्स की यह कॉलोनी है. जंगल के रास्ते से ही यह डकैत आए होने की बात कही जा रही है.

100 मीटर की दूरी पर में दिखे डकैत

पूरे परिसर में कहीं पर भी सीसीटीवी कैमरे नहीं हैं. सिर्फ 100 मीटर दूर जाने पर एक घर में कुछ सीसीटीवी कैमरे लगे हैं. यहां पर डकैत कैमरे में कैद हुए हैं. वो भी लूटपाट करने के बाद जाते हुए दिखाई दे रहे हैं. आज सुबह डकैती की खबर पुलिस विभाग के आला अधिकारियों के पास पहुंची तो हड़कंप मच गया. नया कामठी थाना के थानेदार और डीसीपी निलोत्पल पहुंचे. उसके बाद पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार, पुलिस अधिकारी फुलारी व अन्य अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचे. सभी ने परिसर का मुआयना किया और कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.