- Breaking News, क्राईम खबर , नागपुर समाचार

नागपुर : मेट्रोमोनियल साइट वाले लुटने वाले बंदी, मुख्य आरोपी समेत 2 गिरफ्तार, 7.13 लाख का माल जब्त

नागपुर : सोनेगांव पुलिस ने कुछ दिन पहले मेट्रोमोनियल साइट ‘जीवनसाथीडॉटकॉम’ के जरिये लड़की को होटलों मिलने के लिए बुलाकर गहनों समेत कुल 2.25 लाख रुपये की लूट करने वाले आरोपी को धरदबोचा. मुख्य आरोपी का नाम बोरदेही, तहसील आमला, जिल्ला बैतूल, मन निवासी मिक्की सिंह जगजीत सिंह साहनी (38) बताया गया है. मिक्की को कबूली पर पुलिस ने उसका नकली आधार कार्ड बनाने और लूट का माल खरीदने वाले आमला निवासी आनंद उमेश साहू (30) को भी धरदबोचा. पुलिस ने आरोपी के पास से कई महंगे मोबाइल, लैपटाप और सोने-चांदी के गहनों समेत कुल 7,13,000 रुपये का माल जब्त किया.

4 वारदातों की कबूली

जोन-1 के पुलिस उपायुक्त नुरूल हसन ने बताया कि मुख्य आरोपी मिक्की फर्जी नामों से मेट्रोमोनियल वेबसाइट पर अपनी आईडी बनाता था. अपने प्रोफाइल में इंटरेस्ट दिखाने वाली युवतियों को झांसे में लेकर किसी होटल या अन्य जगहों पर बुलाकर उन्हें लूट लेता था. मिक्की ने अभी तक 4 महिलाओं ओं को इसी प्रकार लूटने की कबूली दी है. इन नारदानों में आनंद ने भी उसका पूरा साश दिया. पुलिस पूछताछ में मिक्की ने कबूली दी कि उसने रिम्पी खहुसा (39) और सेमी अरोरा (38) नाम से फर्जी आईडी बनाई थी. दोनों आईडी में वह स्वयं को दिल्ली निवासी बताता था. वह वेबसाइट पर अविवाहित, तलाकशुदा या पुनर्विवाह की इच्छुक महिलाओं को ढूंढकर स्वयं को बड़ी नौकरी पर होने का दावा करता था. साथ ही घर से रईस होने के दावे से महिलायें उसके झांसे में आ जाती थी.

ओला कार से आते थे नागपुर

डीसीपी हसन ने बताया कि एक बार जल में फसने के बाद मिक्की महिलाओं को नागपुर बुलाता था का औला कार बुक करके नागपुर आता था. इस दौरान आनंद भी उसके माधरुहता था. हामी स्वयं होटल बुक करता था और महिलाओंजरिए बुक करवाना था. इस दौरान उसने शहर के होटल प्राइड, रेडिसनब्लु, सेटर प्वाइंट होटलों में बुकिंग की होटल में महिला के गहरी नींद में होने के बाद वह उनके मोबाइल, गहने और नगदी आदि लूटकर फरार हो जाता. पूछताछ में आरोपियों ने भोपाल और जबलपुर की महिलाओं के सभी लूट की कबूली दी. 

मिक्की ने जीवनासाची वेबसाइट पर मिली एक महिला को मिलने के लिए दिल्ली से नागपूर बुलाया. मिक्की ने महिला को अपना नाम रिमी बताया था. दोनों एयरपोर्ट से निकलकर सेंटर पॉइट रुके. इस दौरान मिक्की ने अपने बोलने की शैली से महिला को अपने अमीर होने का यकीन दिला दिया. रात को जब महिला गहरी नींद में थी तब मिलकर उसके सोने-चांदी के कोननी गहने और मोबाइल समेत 2,20,380 रुपये का माल लेकर फरार हो गया. सुबह होने पर महिला को अपने साथ हुई धोखाधड़ी का पता चला. उन्होंने होटल स्टाफ की मदद से सोनगाव पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई शिकायत मिलते ही पुलिस जाब में जुट गई जता चला कि इससे पहले रेडिसन ब्लू होटल में भी इसी प्रकार का मामला सामने आया था. जिसमे मिक्की ने 28000 रपये की नकदी समेत 1.11 लाल रुपये के माल कर हाथ साफ किया था, इसके बाद डीसीपी नुरूल ने एक स्पेशल टीम बनाई और आरोपी की तलाश शुरू की, मोबाइल  लोकेशान और अन्य तकनीकी जाय के बाद पुलिस ने पहले मिक्की को धरदबोचा.

100 महिलाओं युवतियों से संपर्क का खुलासा

गिरफ्तारी के बाद जब पुलिस ने आरोपियों के मोबाइल की जाचकी तो 100 से अधिक महिलाओं और युवतियों के मोबाइल नंबर मिले, दोनों ने मेट्रोगोनियल वेबसाइट के जरिए इनके मोबाइल नंबर हासिल किए थे. मिली जानकारी के अनुसार इनके अगले निशाने पर इनमें से ही कोई एक महिला थी. यदि पकड़े नहीं जाते तो सभी महिलाओं और युवतियों के साथ लूट की संभावना थी. हालांकि इससे पहले ही सोनेगांव पुलिस ने उन्हें धरदबोचा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.