- Breaking News, क्राईम खबर , नागपुर समाचार

नागपुर : खतरा बढा रही है चायना मेड भाप मशीन, शहर में 150 से 300 रुपये में मिल रही है

फुटपाथों पर सज रही है दुकाने : न कोई गारंटी और न ही वारंटी : झुलस सकती है त्वचा

नागपुर : इन दिनों कोरोना के बढ़ते प्रकोप को कम करने को लेकर लोग तरह-तरह के उपाय आजमा रहे हैं. कोई इसमें काढ़ा बनाकर पी रहा है, तो कोई दिन में 3 से 4 बार भाप ले रहा है. इसे देखते हुए मार्केट में भाप मशीनों की डिमांड भी बहुत अधिक बढ़ गई है. डिमांड चलते मार्केट के साथ-साथ हर गली-मोहल्ले में निम्न क्वालिटी वाली चाइना मेड भाप मशीनों की दूकानें सज गई हैं. कुछ ही दिनों पहले चाइना की वस्तुओं का लोगों द्वारा जमकर विरोध किया जा रहा था और अब जैसे ही मार्केट में यह मशीनें आई, वैसे ही सस्ते के चक्कर में लोग सारा विरोध भूलकर इसे खरीदकर अपनी जान को खतरे में डाल रहे हैं. 150 से 300 रुपये जैसी रेंज वाली यह अमानक स्तर की मशीनें कब गर्म पानी के चक्कर में फूटेंगी, कुछ कहा नहीं जा सकता. इन मशीनों में वायर भी इतना पतला और रद्दी क्वालिटी का लगाया गया कि ज्यादा लोड पड़ने पर यह शार्ट भी हो रहा है.

न कोई गारंटी और न ही वारंटी : चाइना मेड मशीनें होने के कारण हर एक व्यक्ति इसे फुटपाथ पर लेकर नजर आ ही जाता है. दुकान से ली जाये, तो मशीन बाकायदा जांच कर दी जाती है, लेकिन फुटपाथ से लिये जाने से मशीनों की जांच भी नहीं हो पाती. बहुत बार मशीन में लगे रॉड शार्ट होने के कारण धोखा भी हो जाता है.मशीन के साथ दिये जाने वालाजार भी रद्दी क्वालिटी का होने के चलते कुछ ही सेकंड में गरम हो जाता है. जिससे यह उड़ने का डर बना रहता है. इन मशीनों पर न तो कोई गारंटी दी जाती है और न ही वारंटी मिलती है. इसके बावजूद मशीनों की बिक्री धड़ल्ले से जारी है.कोरोना के कारण लोग डरे हुए हैं. नाक बहने या कफ की शिकायत होते ही लोग सोचते है कि कोरोना हो गया, जिसके चलते वे इन मशीनों को खरीद लेते हैं, परंतु यह उनके और बच्चों के लिए खतरनाक साबित हो सकती है.चाइनाने ही इतना बड़ा वायरस दिया है और अब उसकी ही इस तरह की रद्दी क्वालिटी की मशीनें भी बाजारों में पहुंच गई है.

झुलस सकती है त्वचा : जानकारों के अनुसार बाजार में बिकने वाली अमानक, चाइना मेड भापकी मशीनों से समस्या बढ़ सकती है. इससे त्वचा झुलस भी सकती है. इस तरह की मशीन से भाप देने में जरा सी असावधानी जीवनभर का कष्ट दे सकती है. बच्चों के लिए यह नुकसानदायक हो सकती है. बच्चों की त्वचा बहुत नाजुक होती. गर्म पानी की भाप वह बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं. बाजार में घडल्ले से बिकने वाली इन मशीन को प्लग मे लगाने के बाद 2 से 3 मिनट के भीतर पानी खोलने लगता है. इसमें तापमान को नियंत्रित करने का कोई सिस्टम नहीं है. इसलिए यह और अधिक खतरनाक हो जाती है. वहीं कई दूकानों में गारंटी व वारटी वाली भाष मशीन उपलब्ध है, लेकिन वह महंगी होने से लोग सस्ते के तरफ आकर्षित हो रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.