- Breaking News, बाजार

मॉल, काम्पलेक्स में लोगों की आवाजाही रही कम

नागपुर : लॉकडाउन के चलते लगभग साढ़े चार महीने बंद रहे मॉल रोशनी से जगमगा उठे। अनलॉक-3 के तीसरे चरण में मॉल तो खुले, लेकिन लोगों की आवाजादी कम रही। जहां सुबह से शाम तक खरीददारों की कतार लगती थी, वहां इक्का-दुक्का ग्राहक ही मॉल पहुंचे। कपड़ों की दुकानों में थोड़ी ग्राहकी हुई। अन्य दुकानों ग्राहकों का अपेक्षित प्रतिसाद नहीं रहा। मुश्किल से 2 प्रतिशत ग्राहकों ने मॉल में दस्तक दी। ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए अनेक दुकानों में ऑफर रखी गई है। व्यावसायियों का मानना है कि मॉल में व्यवसाय पटरी पर आने के लिए एक-दो सप्ताह इंतजार करना पड़ सकता है।

अभी करना होगा इंतजार : मॉल खुले, लेकिन ग्राहकों का प्रतिसाद नहीं है। दिन भर में मुश्किल से 2 प्रतिशत ग्राहक पहुंचे। बंदिशों के बीच व्यवसाय करने की अनुमति दी है। इस हालात में व्यवसाय पटरी पर आने के लिए काफी दिन इंतजार करना पड़ेगा।

मनीषा साबू, संचालक साबू होम सेट, फार्च्यून मॉल, झांसी रानी चौक

धीरे-धीरे बढ़ेंगे ग्राहक : पहले के मुकाबले ग्राहकों का काफी कम प्रतिसाद है। लंबे समय बाद मॉल खुलने पर पहले दिन के हिसाब से ठीक ही ग्राहक हैं। धीरे-धीरे ग्राहकों के आने का सिलसिला बढ़ेगा। थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजेशन के बाद ही प्रवेश दिया जा रहा है।

मोहम्मद रफी, एम्प्रेस मॉल, गांधीसागर

कपड़ा दुकानों को प्रतिसाद : पहले दिन कपड़ा दुकानों में ग्राहकों का अच्छा प्रतिसाद मिला। अन्य दुकानों में ग्राहक आ रहे हैं, लेकिन पहले के मुकाबले काफी कम है। बच्चों, बुजुर्गों और गर्भवती महिला को संक्रमण का खतरा अधिक रहने से उन्हें प्रवेश नहीं दिया जा रहा है।

पुंडलिक ठाकरे, लैंडमार्क मॉल, धंतोली

Leave a Reply

Your email address will not be published.